Tikri Gurgaon: Mother’s day Celebrated At SD Adarsh Vidyalaya

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

Tikri Gurgaon: Mother’s day was celebrated today at the SD Adarsh Vidyalaya in Tikri Gurgaon with fun and frolic. The chhief guest was Asha Sharma and kids presented programs dedicated to Mothers. News in Hindi Below.

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

faridabad_metro_may_11_mothers_day_celebration_open_sky_school_gurgaon

एस. डी. आदर्ष विद्यालय टीकरी में ‘‘मदर्स डे’’ बड़ी ही धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि श्रीमती आषा षर्मा राश्ट्रीय महासचिव अखिल भारतीय महिला कांग्रेस कमेटी थी। ‘‘मदर्स डे’’ के पावन अवसर पर बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर मॉ की महिमा का गुणगान किया।

उनके कार्यक्रम की भूरि -2 प्रषंसा करते हुऐ अतिथि श्रीमती आषा षर्मा ने उपस्थित बच्चों को संदेष दिया कि मॉ के बिना हमारा जीवन अधूरा है । मॉ हमारी सच्ची गुरू है। मॉ हमारी जननी है हमें जीवनदान देने वाली हमारी मॉ है, मॉ के ऑचल में दूनिया की खुषियॉ हैं। मॉ हमें सच्चे मन से कोई भी आर्षीवाद देती है वह हमें हमारे जीवन में मिलता है। साथ ही उन्होंने उपस्थित अभिभावकों, विद्यार्थियों का ध्यान आज की सामाजिक विभिशिका की ओर आकर्शित करते हुए कहा कि कहीं हम मातृ दिवस मनाते हैं और कहीं हम भावी माताओं को जन्म लेने से पूर्व ही मारने को जघन्य अपराध करते हैं। कहीं हम इन्हें कचरे के डिब्बे में मरने के लिए छोड़ देते हैं?

इस मौके पर गिरिषा, उपमन्यु, याषी, रूचिका, दीपिका, हिमानी, ने मॉ के महत्व पर प्रकाष डालते हुऐ कहा कि मॉ हमारी रचयिता है। हमें इसके अहसानों को कभी नहीं भूलना चाहिए। गौरव, राहुल, अक्षरा, नीरज, पार्थ, दिया, षौर्या, गरीमा, अंषू, यषिका, गिरिषा, वंषिका, जिज्ञासा, भवया, धरा, माही, हिमांषी व दिव्य ने डांस के माध्यम से मॉ को याद किया और उन्होंने डांय द्वारा मॉ का परिचय भी कराया। राजी, तमन्ना, योगित, हर्श, ध्वनि, तंषिका, इषिका व अनीता ने कविता के माध्यम से सबको बताया कि मॉ आई और सबके लिए क्या- क्या चीज लेकर आई और ढ़ेर सारी खुषियॉ लाई। बच्चों ने फैषन षो में भाग लिया जिनमें कुणाल, चेतन, संकल्प, भाविक, ईकांषा व स्पर्ष ने तारे आदि की भूमिका निभाई। उन्होने यह संदेष दिया कि बच्चे मॉ की ऑख के तारे होते हैं। लघु नाटक के माध्यम से गौरी, सान्या, प्ररित, अमित, निधि ने मॉ की अद्भूत महिमा का वर्णन किया और उन्होनें मॉ को अपने जीवन में क्या महत्व है इस पर संदेष दिया। नन्हें – मुन्ने बच्चे याषिका, पार्थ, गरीमा, अंषू, यषिका, गिरिषा, वंषिका, जिज्ञासा, भवया, धरा, माही, हिमांषी व दिव्य ने डांस किया जिसके बाल थे ‘‘मेरी मॉ’’ जिसको देखकर व सुनकर सभी उपस्थित मंहमानों ने भी अपनी -अपनी मॉ को याद किया।

इस अवसर पर ओपन स्काई स्कूल चैयरपर्सन डा. सोनू षर्मा, एस. डी. आदर्ष विद्यालय सोसाइटी सदस्य नूतन भागर्व, प्राचार्या रष्मी दीक्षित, मुख्याध्यापिका सीमा गौड़, इस्टेट अधिकारी अजय षर्मा, सविता वषिश्ट, वंदना भारद्वाज, अनुराधा मिश्रा, आषा असवाल, उमा असवाल सहित बड़ी संख्या में अभिभावक, अध्यापक व बच्चे मौजुद थे।

अजय षर्मा

Filed Under: FeaturedHaryana

About the Author:

RSSComments (0)

Trackback URL

Leave a Reply